संजीव बिखचंदानी के सफलता की कहानी 

Arrow

बिज़नेस-वाणी 

भारत के सबसे बड़े ऑनलाइन जॉब पोर्टल Naukri.com के संस्थापक संजीव बिखचंदानी को आज हर नौजवान जानता है।

एक मध्यमवर्गीय परिवार में पले-बढ़े संजीव ने दिल्ली के सेंट स्टीफेंस कॉलेज से बीए की डिग्री हासिल की। 

1984 में लिंटास में लेखा कार्यकारी के रूप में नौकरी की और तीन साल तक काम किया। लेकिन बाद में नौकरी छोड़ उन्होंने MBA (IIM-अहमदाबाद से) पूर्ण किया।

वे बिज़नेस करना चाहते थे लेकिन मिडल क्लास फॅमिली से आने से उन्हें नोकरी को अपना करियर चुनने के लिए मजबूर होना पड़ा।

लेकिन नौकरी में उनका दिल नहीं लगा और 1990 में, संजीव बीखचंदानी ने अपनी सुरक्षित और अच्छी तनख्वाह वाली नौकरी छोड़ दी।

अपना खुद का बिज़नेस शुरू करने के खातिर उन्होंने अपने छोटे से कमरे से एक दोस्त के साथ Info Edge (India) और Indmark की शुरुआत की।

संजीव बिखचंदानी ने 1997 में Naukri.com लॉन्च किया। वास्तव में, यह रिज्यूम, नियोक्ताओं, भर्ती सलाहकारों, नौकरियों और उम्मीदवारों का एक डेटाबेस था।

आज, Naukri.com 85,760 करोड़ रुपये से अधिक मूल्य के साथ भारत में सबसे बड़े भर्ती प्लेटफार्मों में से एक है।

यह थी संजीव बीखचंदानी और उनके सफल बिज़नेस करियर की कहानी  बिज़नेस से रिलेटेड जानकारी के लिए हमारे पेज को फॉलो करें  (निचे लिंक है )